Thursday, August 27, 2009

क्या मंत्री के पीऐ की हत्या हुई है?

हाल ही में मध्य प्रदेश के उर्जा मंत्री अनूप मिश्रा के पीए श्रोती की मौत हो गई है। लेकिन कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने इसे नैसर्गिक मौत न मानकर एक हत्या माना है। उनके अपने तर्क भी है। दरअसल श्रोती को २१ अगस्त को सामान्य मलेरिया होने पर स्थानीय जेपी अस्पताल में भरती कराया था। उपचार के बाद उन्हें उसी दिन छुट्टी भी दे दी गयी। इसी दिन शाम को उन्हें दोबारा जेपी अस्पताल में भरती कराया गया। डाक्टरों ने उन्हें भर्ती कर लिया और जब जांच की तो श्रोती को पल्सीपरेम मलेरिया बताया। ये भी बताया की पल्सीपरेम मलेरिया की वजह से श्री श्रोती के शरीर का तापमान १०७.२ तक बढ गया। जिसकी वजह से उनकी नसों को फटना बताया। ये बताया की रक्त प्रवाह बढ गया है। केके मिश्रा ने सवाल उठाया है की जब श्री श्रोती की तबीयत इतनी गंभीर थी तो फ़िर उन्हें सीधे निजी अस्पताल में क्यों भर्ती नही कराया और क्यों ख़राब व्यवस्था वाले जेपी अस्पताल में भर्ती किया। उनका कहना है की जरूर दाल में कला है, इसीलिए तो मंत्री ख़ुद पूरे समय मौजूद रहें। इस आरोप के साथ एक बार फ़िर नई बहस छिड़ गई है।